www.yuvasamvad.org

CURRENT ISSUE | ARCHIVE | SUBSCRIBE | ADVERTISE | CONTACT

सम्पादकीय एवं प्रबन्ध कार्यालय

167 ए/जी.एच-2

पश्चिम विहार, नई दिल्ली-110063

फोन - + 91-11-25272799

ई-मेल – ysamvad[~at] gmail.com

मुख्य पृष्ठ  *  पिछले संस्करण  *  परिचय  *  संपादक की पसंद

सदस्यता लें  *  आपके सुझाव

मुख्य पृष्ठ  *  पिछले संस्करण  *  परिचय  *  संपादक की पसंद  * सदस्यता लें  *  आपके सुझाव

युवा संवाद की सदस्यता के लिए सहयोग राशि

 

वार्षिक  : 200 रुपये (व्यक्तिगत)   : 240 रुपये (संगठनों के लिए)

पांच वर्ष : 800 रुपये

दस वर्ष : 1500 रुपये

आजीवन : 2000 रुपये

विदेश में  : 100 अमेरिकी डॉलर (पांच साल के लिए)

 

अंक के प्रमुख आकर्षण

मई 2016

संपादकीय

पानी के लिए हिसंक होता समाज

युवा संवाद - मई 2016 अंक में प्रकाशित

 

भारत की ज्यादातर आबादी पेयजल की पर्याप्त आपूर्ति के लिए तरस रही है। स्थिति यह है कि 10 राज्यों में 254 जिला सूखा प्रभावित हैं। करीब 33 करोड़ लोग सूखे की मार झेल रहे हैं। इससे पहले 2002 में देश को इससे भी अधिक सूखे को झेलना पड़ा था। तब कुल 383 जिले सूखे की चपेट में आए थे। हिमाचल में बिलासपुर की समाधि में कैद है सतलज तो मरी हुई गंधाती व्यास अभी पंजाब के दोआब में मरती...

 

आगे पढ़े...

यह जो बिहार है : शगूफों की राजनीति — योगेंद्र

केंंद्रंद्रीय बजट : महज शब्दों की जुगाली — पी. साईनाथ

असमानता : पांच अरब के बराबर पांच दर्जन — मार्टिन खोर

कृषि-शिक्षा : पारंपरिक बनाम आधुनिक कृषि... — अरुण डीके

दस्तावेज-2 : गांधी मैदान में डॉ. लोहिया — श्रीकातं

मूल निवासी : खतरे में आदिवासी — पुष्पा अचांता

जलवायु परिवर्तन : अब बारी आपकी — अनोठ टोंग

पुस्तक : अहमद बक्स थानेसरी की रामायण

महेश्वर परियोजना : पूरा घुमा मिथ्याचक्र — श्रीपाद धर्माधिकारी

जैव ईंधन : जलवायु परिवर्तन का झूठा समाधान — सेन्साट अगुवा-वीवा

बहुराष्ट्रीय लूट : बहुराष्ट्रीय कंपनियों की लूट का... — मनोज त्यागी

चिंतन : अबला, सबला और महिला — विनोबा

नर्मदा : नर्मदा जयंती या पुण्यतिथि — मेधा पाटकर

संक्रामक रोग : महिलाओं में टी.बी. बरास्ता... — रोली शिवहरे

गाजा पट्टी : इजराइली नाकाबंदी का एक... — पेलेस्टाइन क्रॉनिकल

किशोर अपराध : क्यों नाबालिग का अपराध... — प्रो. राजेन्द्र चौधरी

खान-पान : कैसा भौजन पंसद करेंगे जनाव — सुनीता नारायण

शिक्षा : नकल की नोक पर शिक्षा — मुकुया दालोता

पुस्तक समीक्षा : खूबसूरत और बेहतर दुनिया... — राधेश्याम मंगोलपुरी

सावित्रीबाई फूले : भारत की पहली महिला... — एच.एल. दुसाध

धूमिल : अकविता आंदोलन और उसके... — संगीता शर्मा