www.yuvasamvad.org

CURRENT ISSUE | ARCHIVE | SUBSCRIBE | ADVERTISE | CONTACT

सम्पादकीय एवं प्रबन्ध कार्यालय

167 ए/जी.एच-2

पश्चिम विहार, नई दिल्ली-110063

फोन - + 91-11-25272799

ई-मेल – ysamvad[~at] gmail.com

मुख्य पृष्ठ  *  पिछले संस्करण  *  परिचय  *  संपादक की पसंद

सदस्यता लें  *  आपके सुझाव

मुख्य पृष्ठ  *  पिछले संस्करण  *  परिचय  *  संपादक की पसंद  * सदस्यता लें  *  आपके सुझाव

अंक के प्रमुख आकर्षण

 जनवरी 2017

संपादकीय

क्या सिनेमा घर में ही बसता है राष्ट्र

युवा संवाद - जनवरी 2017 अंक में प्रकाशित

 

सर्वोच्च न्यायालय का आदेश है, इसलिए शिरोधार्य। लेकिन इसी न्यायालय ने पहले राष्ट्रीय ध्वज को मुक्त किया था, यह निर्णय दे कर कि इसे कोई भी कहीं भी फहरा सकता है। इस आदेश से यह पाबंदी हट गई थी कि राष्ट्रीय ध्वज को सिर्फ 15 अगस्त, 26 जनवरी तथा अन्य तारीखों को और सिर्फ सरकारी इमारतों पर फहराया जा सकता है। ...

 

आगे पढ़े...

यह जो बिहार है: रुक नहीं रहा दलितों का दमन  —  डाॅ. योगेंद्र

सामयिकी: यह नोटबंदी नहीं, सामाजिक ...  — अभिषेक श्रीवास्तव

जन-मन: वैकल्पिक राजनीति की जरूरत  — अरुण कुमार त्रिपाठी

नया साल: 2017 संभावनाओं का साल बने  — डॉ योगेन्द्र

कवर स्टोरी: सपनों की जंग में बेहाल देश  — अरुण कुमार त्रिपाठी

पुस्तक अंश: चम्पारण में महात्मा गांधी  — अरविन्द मोहन

झारखंड: नए विकल्प की जरूरत  — वीर भारत तलवार

बंच आॅफ थाॅट: हकीकत और फसाने  — डॉ योगेन्द्र

नोटबंदी: औरतों के आजादकोश की नीलामी  — रवीश कुमार

राजनीति: राजनीति को लतीफा बना दिया जाना  —  चिन्मय मिश्र

हिंदू-मुस्लिम एकता: महात्मा गांधी की दृष्टि में सौहार्द...

                                                             — हुस्न तबस्सुम निहां

श्रद्धांजलि: पर्यावरण के एक महर्षि का जाना  — अरुण कुमार त्रिपाठी

बैंकिंग प्रणाली: शैडो बैंकिंग की लंबी काली छाया

                                                           —  नेस्मी के अव्किरन

बेबाक: ऐसे तो कोई हालात बयां न करे  — सहीराम

 

युवा संवाद की सदस्यता के लिए सहयोग राशि

 

वार्षिक  : 300 रुपये (व्यक्तिगत)   : 360 रुपये (संगठनों के लिए)

पांच वर्ष : 1200 रुपये

दस वर्ष :  2000 रुपये

आजीवन : 3000 रुपये

विदेश में  : 200 अमेरिकी डॉलर (पांच साल के लिए)