www.yuvasamvad.org

CURRENT ISSUE | ARCHIVE | SUBSCRIBE | ADVERTISE | CONTACT

सम्पादकीय एवं प्रबन्ध कार्यालय

167 ए/जी.एच-2

पश्चिम विहार, नई दिल्ली-110063

फोन - + 91-11-25272799

ई-मेल – ysamvad[~at] gmail.com

मुख्य पृष्ठ  *  पिछले संस्करण  *  परिचय  *  संपादक की पसंद

सदस्यता लें  *  आपके सुझाव

मुख्य पृष्ठ  *  पिछले संस्करण  *  परिचय  *  संपादक की पसंद  *  सदस्यता लें  *  आपके सुझाव

युवा संवाद की सदस्यता के लिए सहयोग राशि वार्षिक : 300 रुपये (व्यक्तिगत) : 360 रुपये (संगठनों के लिए) पांच वर्ष : 1200 रुपये दस वर्ष : 2000 रुपये आजीवन : 3000 रुपये विदेश में : 200 अमेरिकी डॉलर (पांच साल के लिए)
अंक के प्रमुख आकर्षण
अक्टूबर 2019
संपादकीय

सियासी कैद में कश्मीर

युवा संवाद - सितंबर 2019 अंक में प्रकाशित

 

लगभग डेढ़ महीने बाद भी कश्मीर में न बंदूकधारी अर्द्धसैनिक बलों, सेना का पहरा घटा है, न कंटीले तारों से सड़कों-मोहल्लों की नाकेबंदी हटी है, न गिरफ्तारियों में कोई ढील आई है, न संचार के ज्यादातर साधन मोबाइल, इंटरनेट ही खुले हैं, फिर भी सरकार की ...

 

आगे पढ़े...

गांधी 150 : बापू तुम कौन हो — अरविन्द मोहन

राष्ट्रपिता : गांधी जी राष्ट्रपिता क्यों? — सौरभ बाजपेयी

गांधी 150 : गांधी का राष्ट्रवाद — नारायण देसाई

गांधी 150 : देश का विभाजन और गांधी — डाॅ. योगेन्द्र

काॅरपोरेट राजनीति : बदलाव का गांधीवादी तरीका — प्रेम सिंह

गांधी की हत्या : गांधी के हत्यारे — नागार्जुन

दस्तावेज : अनूठे अहिंसक का हिंसक अंत — डाॅ. राममनोहर लोहिया

उपन्यास अंश : नोआखाली में गांधी — डाॅ. सुजाता चैधरी

बेबाक : फायदा ही फायदा, ले तो लें! — सहीराम